PM मोदी के दौरे की अमेरिकी मीडिया में चर्चा:अखबारों में QUAD को ज्यादा कवरेज, मीटिंग में चीन पर खुलकर नहीं बोलने पर उठे सवाल

  • Hindi News
  • National
  • Narendra Modi Joe Biden And Kamala Harris Meeting; Washington Post On India Prime Minister Modi Visit In US

वॉशिंगटन9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
PM मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास है कि QUAD में हमारा सहयोग हिंद-प्रशांत के साथ-साथ पूरी दुनिया में शांति और समृद्धि सुनिश्चित करेगा। - Dainik Bhaskar

PM मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास है कि QUAD में हमारा सहयोग हिंद-प्रशांत के साथ-साथ पूरी दुनिया में शांति और समृद्धि सुनिश्चित करेगा।

अमेरिकी दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रपति जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात हुई। भारतीय मीडिया में इन मुलाकातों की काफी चर्चा हो रही है, लेकिन अमेरिकी मीडिया मोदी के दौरे को लेकर बहुत दिलचस्पी नहीं दिखा रहा। अमेरिका समेत दुनिया के दूसरे देशों में क्वॉड मीटिंग की काफी चर्चा है।

अमेरिकी अखबार द वॉशिंगटन पोस्ट ने लिखा है कि बाइडेन या उनके किसी भी मेहमान ने इस बैठक के दौरान चीन या बीजिंग का नाम नहीं लिया। उनके एजेंडे में चीन पर खुलकर कुछ नहीं कहा गया। बाइडेन ने कहा कि इस समूह की पहली बड़ी पहल भारत में बनी एक अरब कोरोना वायरस वैक्सीन की खुराक का वितरण करना है, जो कि सही राह पर है। हालांकि इसे लेकर अंतरराष्ट्रीय निगरानी कर्ताओं ने शंका जाहिर की है।

वॉशिंगटन पोस्ट में बाइडेन की ओर से भारत को भरोसा दिलाने का जिक्र

वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट में बाइडेन की ओर से भारत को ऑकस को लेकर भरोसा दिलाने का भी जिक्र है। इसमें लिखा है कि क्वॉड के मुख्य कार्यक्रम से पहले बाइडेन ने कहा कि वो PM मोदी के साथ एक मजबूत साझेदारी निभाने जा रहे हैं।

अखबार लिखता है कि अफगानिस्तान से अमेरिका के बाहर निकलने के बाद बाइडेन प्रशासन का ध्यान अब चीन पर है। इसके लिए उसे भारत की चिंताओं को दूर करना होगा। चीन से उसे प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही US को पाकिस्तान और अफगानिस्तान के इस्लामी चरमपंथी समूहों से खतरा बना हुआ है, जिनको भारत भी शत्रु की तरह देखता है।

वॉल स्ट्रीट जनरल ने लिखा- क्वॉड देशों में समझौते की संभावना बढ़ी

अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जनरल ने भी QUAD सम्मेलन का जिक्र किया है। अखबार लिखता है कि क्वाड्रिलेटेरल सिक्योरिटी डायलॉग के नाम से 2000 के मध्य में आयोजित हुआ कार्यक्रम आज एक समूह बन चुका है। बैठक के बाद क्वॉड देशों के बीच कई क्षेत्रों में समझौते होने की संभावनाएं बढ़ी हैं। सिक्योरिटी एक्सपर्ट्स् के हवाले से बताया गया है कि ताजा बदलावों से एकजुटता दिखाने की जरूरत पता चलती है।

जापान टाइम्स में PM मोदी-प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा की मुलाकात का जिक्र

वहीं, जापान टाइम्स ने अपनी खबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा की मुलाकात पर ‘भारत और जापान ने चीन के समुद्री इलाके की स्थिति बदलने का किया विरोध’ नामक शीर्षक लगाया। इसमें लिखा है कि क्षेत्रीय जल क्षेत्र में बीजिंग की दृढ़ता की ओर जापानी सरकार ने इशारा किया। प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा और PM मोदी ने समुद्री यथास्थिति बदलने को लेकर एकतरफा कोशिशों का कड़ा विरोध किया।

QUAD बैठक में भारत ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया

क्वॉड देशों भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्राध्यक्षों की पहली इन-पर्सन मीटिंग शुक्रवार को व्हाइट हाउस में हुई। इस बैठक में शामिल प्रधानमंत्री मोदी ने QUAD की पहली इन-पर्सन बैठक बुलाने के लिए बाइडेन का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा कि हमारा वैक्सीन इनिशिएटिव इंडो-पैसिफिक देशों की बड़ी मदद करेगा। विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला के मुताबिक भारत ने QUAD की बैठक में पाकिस्तान की अफगानिस्तान में भूमिका और आतंकवाद में शामिल होने का मुद्दा उठाया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *