योगी कैबिनेट विस्तार में ‘मोदी मॉडल’ की झलक:मोदी 2.0 कैबिनेट विस्तार में UP से एक ब्राह्मण, 3 पिछड़ा, 2 दलित को मिली थी जगह, इसे ही आधार मानकर योगी ने तय किए 7 चेहरे

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Modi Model Implemented In UP Cabinet Expansion: UP CM Yogi Decided 7 Faces On Basis Of Modi 2.0 Cabinet Expansion Formula Adopted In Uttar Pradesh

लखनऊ3 घंटे पहलेलेखक: आदित्य तिवारी

  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में बीते 4 महीने से कैबिनेट विस्तार की अटकलों पर आखिरकार विराम लग गया। रविवार शाम 6 बजे सात नए मंत्रियों ने राजभवन में शपथ ली। मंत्रिमंडल विस्तार योगी सरकार का था, लेकिन इसमें झलक मोदी मॉडल की दिखी।

योगी मंत्रिमंडल विस्तार में एक ब्राह्मण, 3 पिछड़ा, दो SC और एक ST कैटेगरी के विधायक को जगह मिली है। 8 जुलाई को केंद्र की मोदी सरकार ने भी अपनी कैबिनेट को विस्तार दिया था। उस वक्त भी 3 पिछड़े, 3 दलित और एक ब्राह्मण नेता को मंत्री बनाया गया था।

सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल की मौजूदगी में 7 मंत्रियों ने ली शपथ।

सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल की मौजूदगी में 7 मंत्रियों ने ली शपथ।

यूपी में बने नए मंत्री

  • जितिन प्रसाद (ब्राह्मण)- तीन महीने पहले वह कांग्रेस से भाजपा में आए थे। कैबिनेट मंत्री बने। पहली बार वे 2004 में अपने गृह क्षेत्र शाहजहांपुर से लोकसभा चुनाव जीते थे।
  • छत्रपाल गंगवार (कुर्मी) – ये बरेली के बहेड़ी से विधायक हैं। कुर्मी समाज से आते हैं। उम्र 65 साल है। रुहेलखंड क्षेत्र को कवर करेंगे।
  • पलटू राम (दलित)- ये बलरामपुर से आते हैं। 2017 में पहली बार जीते थे। दलित समुदाय से आते हैं।
  • संगीता बिंद (ओबीसी)- पहली बार विधायक चुनी गई हैं। 42 साल उम्र हैं। पिछड़ी जाति से आती हैं। गाजीपुर सदर सीट से आती हैं। छात्र राजनीति भी की है।
  • संजीव कुमार (अनुसूचित जाति) – सोनभद्र के ओबरा सीट से विधायक हैं। ये अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष हैं। आदिवासी समुदाय से आते हैं।
  • दिनेश खटीक (एससी)- मेरठ की हस्तिनापुर सीट से विधायक हैं। खटीक (सोनकर) समाज से आते हैं। पश्चिम यूपी से मंत्री बने हैं।
  • धर्मवीर प्रजापति (ओबीसी)- ये हाथरस से आते हैं। विधान परिषद सदस्य हैं। 2021 में ही विधान परिषद में पहुंचे हैं। माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं।

सात जुलाई मोदी कैबिनेट में UP के ये सांसद बने थे मंत्री

  • अजय मिश्रा टेनी (ब्राह्मण)
  • भानु प्रताप वर्मा (ओबीसी)
  • बीएल वर्मा (ओबीसी)
  • किशोल किशोर (अनुसूचित जाति)
  • एसपी सिंह बघेल (दलित)
  • अनुप्रिया पटेल (ओबीसी)

मोदी कैबिनेट में यूपी को खास तवज्जो

यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर जातीय समीकरण साधने के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार में 7 मंत्रियों को शामिल किया गया था। इसमें भाजपा कोटे से पंकज चौधरी, भानु प्रताप वर्मा, बीएल वर्मा, कौशल किशोर, एसपी सिंह बघेल और अजय मिश्र शामिल थे।

इसके अलावा अपना दल से अनुप्रिया पटेल को मौका दिया गया था। सातों नए मंत्री में 3 पिछड़े, 3 दलित और अजय मिश्रा टेनी के तौर पर सिर्फ़ एक ब्राह्मण चेहरे को तरजीह दी गई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *