योगी मंत्रिमंडल के 7 रत्नों में 2 दागी, 6 करोड़पति:9वीं पास दिनेश बने मंत्री, जितिन के पास 3 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति; अब कैबिनेट में 45% मंत्री क्रिमिनल रिकॉर्ड वाले

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • UP Yogi Adityanath Cabinet Expansion 2 Criminal 6 Crorepati : Dinesh Khatik Became 9th Pass Minister, Jitin Is The Owner Of More Than 3 Crore Assets; Now 45% Criminal And 80% Crorepati Ministers In The Cabinet

लखनऊ2 घंटे पहलेलेखक: अनुज शुक्ला, दिव्यांश रस्तोगी, अलोक निगम

  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को साधने के लिए योगी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। रविवार को योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ। 7 नए मंत्रियों ने शपथ ली। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए जितिन प्रसाद ने सबसे पहले शपथ ली। अब वे कैबिनेट मंत्री होंगे। बाकी 6 राज्य मंत्री होंगे। इसमें सबसे कम पढ़े लिखे मंत्री के रूप में मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक दिनेश खटीक ने शपथ ली। सबसे ज्यादा संपत्ति जितिन प्रसाद (ब्राह्मण) की है। वहीं, दो मंत्रियों का क्रिमिनल रिकॉर्ड है।

उधर, ADR (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) रिपोर्ट की माने तो अब कैबिनेट में 84% मंत्री ग्रेजुएट या इससे ज्यादा पढ़े हैं। वहीं, 80% मंत्री करोड़पति और 45% क्रिमिनल केस वाले हैं।

योगी के मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड-

जितिन प्रसाद, नई दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान से MBA हैं।

जितिन प्रसाद, नई दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान से MBA हैं।

नाम – जितिन प्रसाद (ब्राह्मण)

  • शैक्षिक योग्यता – दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम और दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान से MBA
  • संपत्ति – 12 करोड़
  • वाहन – मारुति कार
तीसरे नंबर पर शपथ ली। ये बलरामपुर से आते हैं। 2017 में पहली बार जीते थे। दलित समुदाय से आते हैं।

तीसरे नंबर पर शपथ ली। ये बलरामपुर से आते हैं। 2017 में पहली बार जीते थे। दलित समुदाय से आते हैं।

नाम – पलटू राम (दलित)

  • शैक्षिक योग्यता – पोस्ट ग्रेजुएट
  • संपत्ति – 2 करोड़ 36 लाख रुपए
  • वाहन – दो कार और एक ट्रैक्टर
  • क्रिमिनल केस- एक
मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक दिनेश खटीक ने 1991 में 9वीं पास की थी।

मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक दिनेश खटीक ने 1991 में 9वीं पास की थी।

नाम – दिनेश खटीक (एससी)

  • शैक्षिक योग्यता – 9वीं पास
  • संपत्ति – 1 करोड़ 79 लाख
  • वाहन- एक कार
  • क्रिमिनल केस – एक (13 फरवरी 2021 में वकील आत्महत्या प्रकरण में उकसाने की धारा 306 के तहत FIR दर्ज)
  • अन्य- फलावदा में ईंट भट्ठे का कारोबार
ये बरेली के बहेड़ी से विधायक हैं। कुर्मी समाज से आते हैं। उम्र 65 साल है। रुहेलखंड क्षेत्र को कवर करेंगे।

ये बरेली के बहेड़ी से विधायक हैं। कुर्मी समाज से आते हैं। उम्र 65 साल है। रुहेलखंड क्षेत्र को कवर करेंगे।

नाम – छत्रपाल गंगवार (कुर्मी)

  • शैक्षिक योग्यता – BEd
  • संपत्ति – 1 करोड़ 29 लाख
  • वाहन- एक बाइक
सोनभद्र के ओबरा सीट से विधायक हैं। ये अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष हैं। आदिवासी समुदाय से आते हैं।

सोनभद्र के ओबरा सीट से विधायक हैं। ये अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष हैं। आदिवासी समुदाय से आते हैं।

नाम – संजीव कुमार (अनुसूचित जनजाति)

  • शैक्षिक योग्यता – 10वीं पास
  • संपत्ति – 1 करोड़ 25 लाख
  • वाहन – दो कार
संगीता वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल यूनिवर्सिटी, जौनपुर से PhD हैं।

संगीता वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल यूनिवर्सिटी, जौनपुर से PhD हैं।

नाम – संगीता बिंद (ओबीसी)

  • शैक्षिक योग्यता – पोस्ट ग्रेजुएट, पीएचडी
  • संपत्ति – 54 लाख 71 हजार रुपए
  • वाहन – एक कार
  • अन्य – लेखक हैं, साहित्य में रुचि
धर्मवीर प्रजापति हाथरस से आते हैं। विधान परिषद सदस्य हैं। 2021 में ही विधान परिषद में पहुंचे हैं। माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं।

धर्मवीर प्रजापति हाथरस से आते हैं। विधान परिषद सदस्य हैं। 2021 में ही विधान परिषद में पहुंचे हैं। माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं।

धर्मवीर प्रजापति के बारे में जानें

भाजपा से अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले धर्मवीर प्रजापति को साल 2002 में पहली बार प्रदेश का दायित्व मिला। तत्कालीन पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ में वह प्रदेश के महामंत्री बने। इसके बाद दो बार प्रदेश संगठन में मंत्री का दायित्व संभाला। जनवरी 2019 में उन्हें माटी कला बोर्ड का अध्यक्ष बनाया गया।

45% पर क्रिमिनल केस

ADR (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) रिपोर्ट की माने तो योगी सरकार के 84% मंत्रियों ने ग्रेजुएट या इससे ज्यादा पढ़ाई की है। 16% मंत्री 10वीं से 12वीं पास हैं। 45% (20 मंत्री) पर क्रिमिनल केस दर्ज हैं। उधर, बलरामपुर से विधायक पलटू राम पर एक मुकदमा दर्ज होने के से योगी मंत्रिमंडल में दागी मंत्रियों में इजाफा हुआ है।

80% मंत्री करोड़पति

2017 में हुए चुनाव के दौरान नामांकन के साथ दिए गए शपथ पत्र में योगी मंत्रिमंडल के 80% मंत्री यानी 35 मंत्री करोड़पति हैं। मंत्रिमंडल में शामिल बरेली से विधायक छत्रपाल सिंह का नाम वैसे तो करोड़पति मंत्रियों की लिस्ट में है, लेकिन उनके नाम एक भी 4 पहिया वाहन नहीं है। उनके नाम सिर्फ एक बाइक है। उधर, गाजीपुर की विधायक डॉ. संगीता बिंद राजनीतिज्ञ होने के साथ एक लेखक भी हैं और साहित्य में रुचि रखती हैं। इनके नाम 54 लाख 71 हजार रुपए की संपत्ति है।

BJP के 246 विधायक करोड़पति

वहीं, भाजपा में 246 विधायक (79%) करोड़पति हैं। इनमें से जौनपुर सदर से विधायक गिरीश यादव की सबसे कम संपत्ति 13 लाख रुपए है। दूसरे नंबर पर वाराणसी के शिवपुर से विधायक अनिल राजभर के पास 35 लाख और वाराणसी के ही विधायक नीलकंठ तिवारी के पास 38 लाख की संपत्ति है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *