सिद्धू के ‘इस्तीफा बम’ से मंत्रियों के चेहरे पर शिकन:पदभार संभाल रहे राजा वड़िंग को इस्तीफे की खबर मिली तो उतर गया चेहरा, सोशल मीडिया पर लाइव चल रहा प्रोग्राम बंद किया

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • The New Ministers Were Handling Their Portfolios That Siddu Resigned, Alleging That The Work Was Not Done In Seven Days.

लुधियाना16 मिनट पहलेलेखक: दिलबाग दानिश

  • कॉपी लिंक
जब नवजोत सिंह सिद्धू अमरिंदर सिंह राजा वडिंग से मिलने उनके घर पहुंचे थे। - Dainik Bhaskar

जब नवजोत सिंह सिद्धू अमरिंदर सिंह राजा वडिंग से मिलने उनके घर पहुंचे थे।

पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिद्धू ने मंगलवार दोपहर में अचानक अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सिद्धू के इस्तीफे की खबर उस समय आई जब विभागों का आवंटन होने के बाद नए मंत्री अपने-अपने महकमे में पदभार संभाल रहे थे। बताया जा रहा है कि नए मंत्री भी सिद्धू के इस्तीफे की टाइमिंग से खुश नहीं है। हालांकि कोई भी इस बारे में खुलकर बोलने को तैयार नहीं है।

मंगलवार दोपहर में ट्रांसपोर्ट महकमा मिलने के बाद लगभग पौने 4 बजे अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग पदभार संभालने अपने दफ्तर पहुंचे। उनके साथ डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा भी थे। अभी राजा वड़िंग ने पदभार संभाला भी नहीं था कि सिद्धू के इस्तीफे की खबर आ गई। इसके साथ ही राजा वड़िंग के चेहरे पर विभाग मिलने की खुशी कम और चिंता ज्यादा दिखने लगी।

राजा वड़िंग उस समय सोशल मीडिया पर लाइव थे। सिद्धू के इस्तीफे की खबर आते ही यह लाइव भी बंद कर दिया गया। फेसबुक लाइव पर राजा वड़िंग के लगभग 3 मिनट चले वीडियो पर बधाई देने वालों से ज्यादा संख्या सिद्धू के इस्तीफे की जानकारी देने वालों की थी। बाद में पत्रकारों के पूछने पर राजा वड़िंग ने कहा कि वह खुद सिद्धू के इस्तीफे की खबर से हैरान हैं। उन्हें सिद्धू के इस्तीफे की वजहों का कोई आइडिया नहीं है। उन्हें यह खबर अभी मिली है। वह इसके बारे में पता करेंगे।

मंत्री पद संभालने पर अरुणा चौधरी को गुलदस्ता भेंट करते सीएम चन्नी।

मंत्री पद संभालने पर अरुणा चौधरी को गुलदस्ता भेंट करते सीएम चन्नी।

अरुणा चौधरी ने अपना राजस्व, पुनर्वास और आपदा प्रबंधन विभाग संभाल लिया है। उनके पदभार संभालने के मौके पर खुद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और डिप्टी सीएम ओपी सोनी मौजूद रहे। गौरतलब है कि अरुणा चौधरी की सीएम चन्नी से रिश्तेदारी भी है। वहीं अरुणा चौधरी ने अपने ऊपर विश्वास जताने के लिए पार्टी आलाकमान और मुख्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए कहा कि वह पहले की तरह राज्य के लोगों की निरंतर सेवा करते रहेंगी। राज्य सरकार समाज के सभी समूह वर्गों के कल्याण और विकास के लिए हमेशा तत्पर है। लोगों के घरों तक सरकारी सेवाएं पहुंचाने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है। सरकार अपने चुनावी घोषणा पत्र में किए गए एक-एक वादे को पूरा करेगी और इसके लिए वह पहले की तरह ही जी-जान से कोशिशें जारी रखेंगी।

भारत भूषण आशु को पदभार संभालने पर बधाई देते सीएम चन्नी।

भारत भूषण आशु को पदभार संभालने पर बधाई देते सीएम चन्नी।

भारत भूषण आशु ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की उपस्थिति में पंजाब सिविल सचिवालय-1, चंडीगढ़ में कैबिनेट मंत्री के तौर पर अपना पद संभाल लिया। आशु को ख़ाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्रीचरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व में पंजाब को विकास की नई बुलन्दियों पर पहुंचाने के लिए वह अपने प्रयास जारी रखेंगे।

पदभार संभालने के बाद सीएम चन्नी के साथ तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा।

पदभार संभालने के बाद सीएम चन्नी के साथ तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा।

पंजाब सरकार के ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग के मंत्री तृप्त राजिंद सिंह बाजवा ने मुख्यमंत्री चन्नी की मौजूदगी में पंजाब सचिवालय में अपना कार्यभार संभाला। पद संभालने बाद में मंत्री बाजवा ने कहा कि नई सरकार नए जोश, उत्साह और नई दिशा के साथ काम करेगी। जो वादे कांग्रेस पार्टी द्वारा मतदान से पहले लोगों के साथ किए गए थे, वे यथावत पूरे किए जाएंगे। लोगों को मुख्यमंत्री चन्नी से बहुत उम्मीदें हैं और हम सभी मंत्री एक टीम की तरह काम करेंगे और लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे।

अपना पद संभालने की औपचारिकता पूरी करते सुखबिन्दर सिंह सरकारिया।

अपना पद संभालने की औपचारिकता पूरी करते सुखबिन्दर सिंह सरकारिया।

सुखबिन्दर सिंह सरकारिया ने मंगलवार को पंजाब सिविल सचिवालय-1, चंडीगढ़ में कैबिनेट मंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया है। उनको जल संसाधन, आवास निर्माण एवं शहरी विकास विभागों की जिम्मेदारी सौंपी गई है। पदभार संभालते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व में पंजाब को विकास की नई बुलन्दियों पर पहुंचाने के लिए वह हर प्रयास करेंगे। पंजाब निवासियों को साफ-सुथरा, पारदर्शी और लोक-हितैषी प्रशासन देना उनकी प्राथमिकता होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *