साल का सबसे बड़ा आउटेज:दुनिया भर में वॉट्सऐप, FB और इंस्टाग्राम लगभग 6 घंटे रहे बंद; DNS रूटिंग समस्याओं के कारण सेवाएं हुई थी बाधित

  • Hindi News
  • National
  • WhatsApp, Facebook And Instagram Servers Down Worldwide, Troubled Users Are Complaining On Twitter

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप प्लेटफॉर्म छह घंटे से अधिक समय तक के लिए पूरी दुनिया में बंद रहे। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप, फेसबुक और इंस्टाग्राम ने दुनियाभर में अचानक काम करना बंद कर दिया था। यह समस्या सोमवार रात करीब 9.15 बजे सामने आई। तीनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के भारत समेत पूरी दुनिया में अरबों यूजर हैं। इसके बाद लोगों ने तुरंत ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रियाएं देना शुरू कर दिया। आउटेज के बाद से फेसबुक के शेयर 6% तक गिर गए।

मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के वैश्विक आउटेज पर बोलें

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने अपने सभी तीन प्लेटफॉर्म- फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के स्थायी वैश्विक आउटेज के बारे में चुप्पी तोड़ी है क्योंकि उन्होंने 5 अक्टूबर को कहा था कि सेवाएं “अब ऑनलाइन वापस आ रही हैं”। इसके अलावा, सीईओ ने कहा, “आज व्यवधान के लिए खेद है – मुझे पता है कि आप उन लोगों से जुड़े रहने के लिए हमारी सेवाओं पर कितना भरोसा करते हैं जिनकी आप परवाह करते हैं।”

हजारों यूजर्स ने की शिकायत

आउटेज की यह समस्या कई घंटे बीतने के बाद भी बनी रही। लोग न मैसेज भेज पा रहे थे और न ही रिसीव कर पा रहे थे। कंपनी के सर्वर डाउन होने की वजह से ये दिक्कत आई थी। आउटेज ट्रेकिंग कंपनी Downdetector.com के मुताबिक, 80 हजार यूजर्स ने वॉट्सऐप और 50 हजार से ज्यादा ने फेसबुक से शिकायत दर्ज कराई।

फेसबुक और वॉटसऐप ने दी सफाई फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम तीनों पर मालिकाना हक फेसबुक का है। सर्विस ठप होने के बाद फेसबुक ने कहा है कि कुछ लोगों को ऐप इस्तेमाल करने में दिक्कत हो रही है। हम इसके लिए माफी मांगते हैं। जल्द ही इस समस्या को ठीक कर लिया जाएगा।

वहीं, वॉट्सऐप की ओर से सोशल मीडिया पर जारी बयान में कहा गया है कि हमें पता कि इस समय कुछ लोगों को समस्या आ रही है। हम चीजों को वापस सामान्य करने के लिए काम कर रहे हैं और जल्द से जल्द इसकी जानकारी देंगे। आपके धैर्य के लिए धन्यवाद।

कम ही डाउन होता है फेसबुक

फेसबुक डाउन होने के मामले बहुत कम सामने आते हैं। फिर भी ऐसा होने पर पूरी दुनिया पर सोशल मीडिया यूजर्स पर काफी असर पड़ता है, क्योंकि तीनों बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक के हैं। कंपनी इस तरह के स्लो डाउन के बारे में कोई जानकारी नहीं देती, न ही इसका कोई कारण बताती है।

दिक्कत दूर होने के बाद के बाद भी कंपनी ये नहीं बताती कि ऐसा क्यों हुआ। 2019 में फेसबुक में अब तक का सबसे बड़ा स्लोडाउन हुआ था। उस समय भी कंपनी ने सिर्फ इतना कहा था कि रुटीन मेंटेनेंस ऑपरेशन के दौरान कुछ खराबी आई थी। इसे दूर कर लिया गया।

एंड्रायड, IOS और PC सभी जगह दिक्कत

तीनों प्लेटफॉर्म के डाउन होने की समस्या एंड्रायड, IOS और PC सभी पर दिखाई दी है। एक ओर जहां फेसबुक और इंस्टाग्राम यूजर्स न्यूज फीड को अपडेट नहीं कर पा रहे हैं, तो वहीं वॉट्सऐप यूजर्स कोई भी मैसेज नहीं भेज पाए।

जुकरबर्ग ने माना था गंभीर मसला

अमेरिकी टेक्नोलॉजी ब्लॉग दि वर्ज ने 2019 के स्लोडाउन पर एक लीक ट्रांसक्रिप्ट पब्लिश की थी। इसमें बताया गया था कि कंपनी के चीफ एक्जिक्यूटिव मार्क जुकरबर्ग ने इस तरह के स्लोडाउन को गंभीर मुद्दा माना था। उनका मानना था कि ऐसे कोई भी समस्या लोगों को हमारे कॉम्पटीटर्स के प्लेटफॉर्म इस्तेमाल करने की ओर मोड़ सकती है। ऐसा होने पर लोगों का विश्वास जीतने में महीनों लग सकते हैं।

मौजूदा स्लो डाउन पर कंपनी का क्या कहना है?

कंपनी के प्रवक्ता एंडी स्टोन ने ट्विटर पर कहा है कि हम लोगों को हो रही परेशानी के लिए माफी मांगते हैं। हमारे ऐप और प्रोडक्ट्स को एक्सेस करने में लोगों को परेशानी हो रही है। हम चीजों को जल्द से जल्द सामान्य करने के लिए काम कर रहे हैं। हालांकि, स्टोन ने ये नहीं बताया ये परेशानी क्यों हुई और ये कितनी देर में ठीक हो जाएगी।

6 महीने पहले 42 मिनट तक ठप रहे थे प्लेटफॉर्म

करीब 6 महीने पहले भी वॉट्सऐप, इंस्टाग्राम और फेसबुक पूरी दुनिया में 42 मिनट तक ठप रहे थे। तब रात 11.05 मिनट पर शुरू हुई यह समस्या करीब 11:47 बजे तक बनी रही थी। दुनिया में वॉट्सऐप 5 अरब से ज्यादा बार डाउनलोड किया गया है।

पहले भी कई बार सर्वर पर लोड बढ़ने से वॉट्सऐप क्रैश हो चुका है। जल्द ही इस समस्या को दूर कर लिया जाता है। इतना वक्त ही अरबों यूजर को परेशान करने के लिए काफी होता है। हालांकि, पूरी दुनिया में वॉट्सऐप के क्रैश होने की खबरें कम ही आती हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *