कैप्टन ने अमित शाह को सौंपी चन्नी की सीक्रेट फाइलें:सुखबीर का आरोप

शिरोमणि अकाली दल बादल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल। - Dainik Bhaskar

शिरोमणि अकाली दल बादल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल।

बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) को सीमा के साथ लगते 50 किलोमीटर तक के इलाकों में कार्रवाई का अधिकार देने के मामले में पंजाब की सियासत में उबाल है। शिरोमणि अकाली दल बादल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने इस मामले में प्रदेश के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह पर बड़ा आरोप लगाया है। सुखबीर सिंह बादल का कहना है कि कैप्टन मुख्यमंत्री रहते समय सभी मंत्रियों की फाइलें विजीलेंस से मंगवाकर अपने पास रखते थे। जब कोई मंत्री आंख उठाता था, तो उसे फाइल दिखाकर चुप करवा देता था।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की गुप्त फाइल भी कैप्टन अमरिंदर सिंह के पास थी और यही फाइलें कैप्टन ने अमित शाह को दे दीं। अब अमित शाह इन फाइलों के माध्यम से मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को धमका रहे हैं। यही कारण है कि चरणजीत सिंह चन्नी ने अमित शाह से मुलाकात की और बीएसएफ के अधिकार बढ़ाने पर सहमती दे दी।

बीएसएफ के अधिकार बढ़ाने के खिलाफ सुखबीर बादल की अगुवाई में अकाली दल ने गुरुवार को पंजाब भवन के समक्ष विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद वह मोहाली में परमिंदर सिंह सोहाना का पार्टी में दोबारा शामिल करने के लिए रखे समारोह में संबोधित करने पहुंचे। इस दौरान ही उन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह और चरणजीत सिंह चन्नी पर आरोप लगाए।

पूर्व सेहत मंत्री पर मीलियन नशे की दवाएं चोरी करने का आरोप

सुखबीर ने एक और बड़ा आरोप पूर्व सेहत मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू पर लगाया। उन्होंने कहा कि बलवीर सिद्धू ने नशा छोड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाली मीलियन नशे की गोलियां बांट दी। अब उन्हीं गोलियों पर नशेड़ी तैयार हो गए। यही नहीं अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं और दोस्तों को नशा छुडाओ केंद्र खुलवा दिए और दो रुपए की यह गोली साठ रुपए में बेची जा रही है। सिद्धू द्वारा किए गए इन गलत कामों की फाइलें भी कैप्टन अमरिंदर सिंह पास हैं और अगर वो खुल गईं तो उन्हें कोई भी जेल में जाने से नहीं बचा सकता है।

परगट सिंह लगा चुके हैं बीजेपी से मिले होने के आरोप

बीएसएफ को अधिकार देने का समर्थन करने पर कैप्टन अमरिंदर सिंह पहले ही विरोधियों के निशाने पर हैं। खेल मंत्री परगट सिंह तो कैप्टन पर पहले ही बीजेपी से मिले होने के आरोप लगा चुके हैं। परगट ने कहा कि वह राष्ट्रपति शासन लगवाना चाहते हैं। अब सुखबीर सिंह बादल के बयान ने इन चर्चाओं को बल दिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *