बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले के खिलाफ प्रदर्शन:150 देशों में इस्कॉन सेंटर्स पर विरोध प्रदर्शन होगा, प्रार्थना सभाएं आयोजित की जाएंगी

ढाका41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बांग्लादेश में मंदिरों और हिंदुओं पर हमलों के खिलाफ आज 150 देशों में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। ये प्रदर्शन अलग-अलग देशों में इस्कॉन केंद्रों पर होंगे। इस दौरान प्रार्थना सभाएं आयोजित की जाएंगी और हमलावरों के खिलाफ सख्त एक्शन की लेने की आवाज उठाई जाएगी। मालूम हो कि हिंसा के दौरान बांग्लादेश में इस्कॉन मंदिर पर हुए हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे।

मायापुर इस्कॉन का वैश्विक मुख्यालय है। इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस (इस्कॉन) कोलकाता के उपाध्यक्ष राधारमण दास ने कहा कि बांग्लादेश से आ रहीं तस्वीरें दुनिया भर के लिए बहुत दुखद हैं। उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क, मॉस्को, रूस, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा के कुछ हिस्सों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुके हैं। 23 अक्टूबर को 150 देशों के सभी इस्कॉन मंदिरों और दूसरे सरकारी प्रतिष्ठानों में, श्रद्धालु बांग्लादेश की घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।

राधारमण दास बोले- मृतकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की होगी

राधारमण दास ने कहा कि इन हमलों को लेकर हम दुखी और आहत हैं। हम शांति और भाईचारे को बढ़ावा देते हैं। भीड़ हमें कैसे निशाना बना सकती है? हम हमेशा नोआखली (बांग्लादेश में) के लोगों के पक्ष में रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंसा में छोटे बच्चों समेत कई लोगों की मौत हो गई। उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की जाएगी।

बांग्लादेश में कई हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ हुई। पूजा पंडालों में मूर्तियों को तोड़ा गया।

बांग्लादेश में कई हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ हुई। पूजा पंडालों में मूर्तियों को तोड़ा गया।

PM मोदी और UN से भी मामले में हस्तक्षेप की मांग

बांग्लादेश में दुर्गा पूजन के दौरान पूजा पंडालों और हिंदुओं के खिलाफ हिंसा हुई। इसके खिलाफ इस्कॉन ने भारत में कोलकाता समेत कई दूसरी जगहों पर विरोध प्रदर्शन किए हैं। इस्कॉन के सदस्यों ने कोलकाता में बांग्लादेश के डिप्टी हाई कमिशन के बाहर भी प्रदर्शन किया था। साथ ही इस्कॉन की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और संयुक्त राष्ट्र से भी इस हिंसा को लेकर हस्तक्षेप की मांग की गई है।

20 मकान फूंके गए, हिंदुओं पर हमले हुए

दुर्गा पूजा पर बांग्लादेश में हिंदुओं पर हुए हमले के मामले में PM शेख हसीना ने सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। बांग्लादेश में 13 से 17 अक्टूबर के बीच बड़े पैमाने पर हिंसा हुई। दुर्गा पंडाल तोड़े गए। रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार देर रात भीड़ ने 66 मकानों में तोड़फोड़ की और कम से कम 20 मकानों को फूंक दिया। हिंदुओं पर हमले किए गए। हिंसा अब भी पूरी तरह से बंद नहीं हुई है।

दुर्गा पूजा के दौरान मूर्ति विसर्जन के मौके पर कई पूजा मंडपों को तोड़ा गया। कई इलाकों में हिंदुओं को पूजा मंडपों की रखवाली करनी पड़ी।

दुर्गा पूजा के दौरान मूर्ति विसर्जन के मौके पर कई पूजा मंडपों को तोड़ा गया। कई इलाकों में हिंदुओं को पूजा मंडपों की रखवाली करनी पड़ी।

हिंसा का मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन गिरफ्तार

बांग्लादेश हिंसा के मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन को गुरुवार रात को कॉक्स बाजार से गिरफ्तार किया गया। उस पर कोमिल्ला में दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान की प्रति रखने का संदेह है। टीवी फुटेज में देखा गया कि हुसैन को कॉक्स बाजार से कोमिल्ला सड़क मार्ग से भारी सुरक्षा के बीच लाया गया। अधिकारियों ने बताया कि शुरुआती पूछताछ के बाद उसे अदालत में पेश किया जाएगा, जहां अगले कई दिनों के लिए उसे पुलिस की रिमांड में देने की अपील की जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *