पिता-पुत्र में बनी बिगड़ी बात:लालू यादव ने बेटे तेज प्रताप को मनाया, पार्टी पोस्टर में भी दी एंट्री, चुनाव प्रचार भी कराएंगे

पटना3 घंटे पहले

राजद कार्यालय के पास लगे पोस्टर।

RJD में पिता-पुत्र के बीच चल रही तकरार थम गई है। RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव को मना लिया है। इसके साथ ही RJD के पोस्टरों में तेज प्रताप की तेजस्वी के साथ वापसी हो गई है। माना जा रहा है कि तेज प्रताप अब उपचुनाव में प्रचार के लिए भी जाएंगे।

लालू ने पटना लौटते ही की मुलाकात और बन गई बात

दरअसल परिवार के अंदर उपजे विवाद के बाद लालू पटना लौटे और 10 सर्कुलर आवास की कमान अपने हाथों में ले ली। उन्होंने वन टू वन करके पूरे स्टाफ और घर के सदस्यों से तेज प्रताप के मुद्दे पर अलग-अलग बात की। इसके बाद बात बन गई।

तेज प्रताप से डेढ़ घंटा की बात

इसके बाद उन्होंने तेज प्रताप को भी बुलाया और लगभग डेढ़ घंटे तक दोनों के बीच बातचीत हुई। सूत्रों की मानें तो तेज प्रताप यादव ने अपने दिल की सारी भड़ास पिता के सामने निकाल दी। उन्होंने साफ कहा कि आपके जाने के बाद मेरे साथ दुर्व्यवहार किया गया। न पार्टी से संबंधित बातों को बताया जाता है और ना ही घर में होने वाले किसी भी कार्यक्रमों की सूचना दी जाती है।

तेज प्रताप यादव ने यह भी कहा कि तेजस्वी यादव को नेता बनाने में उनकी भी सहमति थी। तभी वो नेता बने थे। इस बात पर सहमति बनी थी कि तेजस्वी यादव डिप्टी CM बनेंगे और पार्टी के मुख्य नेता बनेंगे। इसके बावजूद मेरे साथ सौतेला व्यवहार किया गया। उन्होंने अपने पिता के सामने तेजस्वी के साथियों की भी आलोचना की। कहा कि हमारे बीच संबंध खराब कराने के लिए यह लोग जिम्मेदार हैं। आज भी मैं उसे बहुत प्यार करता हूं और संकल्पित हूं कि तेजस्वी यादव बिहार के मुख्यमंत्री बनें।

लालू ने ध्यान से सुनी सारी बात

विश्वस्त सूत्रों की मानें तो RJD सुप्रीमो ने तेज प्रताप की सारी बातों को काफी ध्यान से सुना और इसके बाद जिसने गड़बड़ी की है, उनको एक-एक कर आवास पर बुलाकर डांट लगाई। लालू ने उन तमाम लोगों को फोन लगाकर खरी-खोटी सुनाई, जिन्होंने पोस्टर से तेज प्रताप को गायब किया था। तुरंत निर्देश दिया कि बिना तेज प्रताप के फोटो वाले पोस्टर को हटाएं। इसके बाद आनन-फानन में नेताओं ने अपने पुराने पोस्टर हटाकर नए पोस्टर लगाना शुरू कर दिया है, जिसमें तेजस्वी के साथ तेज प्रताप यादव भी हैं।

अब यह बात भी कही जा रही है कि तेज प्रताप पिता लालू यादव के साथ चुनाव प्रचार में जा सकते हैं। उपचुनाव में RJD उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *