LOC पर लैंडमाइन ब्लास्ट:नौशेरा में गश्त पर निकले लेफ्टिनेंट समेत दो शहीद, बहन की शादी के लिए छुट्टी पर जाने वाले थे लेफ्टिनेंट

  • Hindi News
  • National
  • Two Martyrs Including Army Patrol Lieutenant In Nowshera Sector, Lieutenant Was About To Leave For Sister’s Wedding

जम्मू8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तान से सटी लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) के करीब गश्त कर रही आर्मी की एक पेट्रोल टीम लैंडमाइन विस्फोट की चपेट में आ गई।

सेना के सूत्रों के मुताबिक, पीरपंजाल रीजन के नौशेरा-सुंदरबनी सेक्टर में शनिवार शाम को हुई घटना में तीन जवान घायल हो गए, जिन्हें आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जम्मू रीजन के डिफेंस प्रवक्ता के मुताबिक, घायलों में शामिल एक लेफ्टिनेंट और एक सिपाही शहीद हो गए हैं, जबकि एक अन्य जवान की हालत गंभीर बनी हुई है।

सूत्रों का कहना है कि लैंडमाइन की घटना की जांच शुरू कर दी गई है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि यह लैंडमाइन LOC पर आतंकी घुसपैठ रोकने के लिए सेना की तरफ से ही बिछाई गई थी या किसी आतंकी संगठन ने आर्मी पेट्रोल को निशाना बनाया है।

शहीदों में बेगूसराय के लेफ्टिनेंट ऋषि और बठिंडा के मंजीत

डिफेंस प्रवक्ता के मुताबिक, लैंडमाइन विस्फोट में शहीद होने वालों में लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार और सिपाही मंजीत सिंह शामिल हैं। ऋषि कुमार बिहार के बेगूसराय निवासी थे, जबकि मंजीत पंजाब के बठिंडा जिले के सिरवेवाला गांव के रहने वाले थे।

शहीद लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार (फाइल फोटो)

शहीद लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार (फाइल फोटो)

बेगूसराय की प्रोफेसर कॉलोनी में मातम का माहौल

लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार की शहादत की सूचना मिलते ही बेगूसराय में मातमी सन्नाटा पसर गया है। ऋषि कुमार बेगूसराय जिला मुख्यालय के प्रोफेसर कॉलोनी निवासी राजीव रंजन के पुत्र थे और एक साल पहले सेना में ज्वाइन किया था। वह मूलतः लखीसराय के पिपरिया के निवासी थे, लेकिन कई दशक पूर्व से ही जीडी कॉलेज के समीप पिपरा रोड में घर बना कर रह रहे थे। दादा जी के रिफाइनरी में कार्यरत रहने के कारण यहीं बस गए थे।

उनकी मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। शहीद के पिता राजीव रंजन ने बताया कि टेलीफोन पर तकरीबन 7:30 बजे सूचना मिली। पिता ने यह भी कहा कि 4 दिन पहले ही मां से बात किया था और बोला बहन की शादी में छुट्टी लेकर आ रहे हैं।

लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार की मां खबर सुनकर हो गई बेहोश।

लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार की मां खबर सुनकर हो गई बेहोश।

29 नवंबर को है छोटी बहन की शादी

घटना की सूचना मिलने के बाद सेना में ही कार्यरत ऋषि के रिश्तेदार मौके पर पहुंच चुके हैं। इधर इकलौते पुत्र के निधन से माता-पिता समेत अन्य परिजन लगातार बेहोश हो रहे हैं। ऋषि अपने दो बहनों के इकलौते भाई और पिता के दो भाइयों में इकलौते चिराग थे।

परिजनों ने बताया कि हम सभी ऋषि के छोटी बहन की 29 नवंबर को होने वाली शादी की तैयारी कर रहे थे। 22 नवंबर को ऋषि बहन की शादी में शामिल होने के लिए आने वाले थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *