ड्रग्स केस की तनातनी राजभवन पहुंची:महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिला वानखेड़े का परिवार, मलिक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

मुंबई5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के मुंबई जोन के डायरेक्टर समीर वानखेड़े का परिवार मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिला। इनमें समीर के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े, पत्नी क्रांति वानखेड़े और बहन वास्मीन वानखेड़े शामिल थीं। सभी शाम 5 बजे राजभवन पहुंचे और तकरीबन 2 घंटे तक इनकी राज्यपाल से मुलाकात चली।

राज्यपाल से मुलाकात के बाद बाहर निकले समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने कहा, ‘मैं अपनी बहु और बेटी के साथ राज्यपाल से मिला। हमने उन्हें मैमोरैंडम सौंपा हैं। राज्यपाल ने कहा कि सब कुछ ठीक हो जाएगा।’

समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति वानखेड़े ने कहा- हमने गवर्नर को सब कुछ बताया है। जो हमारे साथ पिछले कुछ दिनों के दौरान घटा है। ऐसा नहीं था कि हम उनके पास शिकायत लेकर गए थे। हमने उनसे सिर्फ इतना कहा कि यह सच्चाई की लड़ाई है और हम लड़ने जा रहे हैं, हमें बस ताकत चाहिए। उन्होंने हमें शक्ति और आश्वासन दिया है।

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के साथ समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े और पत्नी क्रांति वानखेड़ें।

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के साथ समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े और पत्नी क्रांति वानखेड़ें।

मलिक के खिलाफ SC/ST एक्ट में केस दर्ज करने की शिकायत

इस बीच नवाब मलिक लगातार NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर नए-नए आरोप मढ़ रहे हैं। अब वानखेड़े परिवार ने पलटवार करते हुए उन पर SC/ST एक्ट के तहत शिकायत दर्ज कराई है। इसके साथ FIR दर्ज कराने की मांग भी की गई है। इससे पहले वानखेड़े के परिवार ने मलिक पर बॉम्बे हाईकोर्ट में 100 करोड़ का मानहानि केस ठोका है। इस पर उन्हें आज जवाब दाखिल करना था।

समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने ओशिवारा के ACP के पास मलिक के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत परिवार की जाति के बारे में झूठे आरोप लगाने की शिकायत दर्ज कराई है। वानखेड़े फैमिली की डिमांड है कि मलिक के खिलाफ FIR दर्ज हो।

समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति वानखेड़े ने कहा- हमने गवर्नर को सब कुछ बताया है।

समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति वानखेड़े ने कहा- हमने गवर्नर को सब कुछ बताया है।

मुंबई पुलिस कमिश्नर से मिले NCB के DDG

मुंबई के क्रूज ड्रग्स केस मामले की जांच कर रही एनसीबी दिल्ली की टीम का नेतृत्व कर रहे डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह ने मंगलवार को मुंबई के पुलिस कमिश्नर हेमंत नगराले से मुलाकात की। उन्होंने आर्यन खान व समीर वानखेड़े से जुड़े मामलों की जांच में नगराले से मदद मांगी।

एनसीबी के उप महानिदेशक ज्ञानेश्वर सिंह ने सीसीटीवी फुटेज को लेकर भी नगराले से चर्चा की। उन्होंने बताया कि हम सोमवार को कुछ स्पॉट पर गए थे। प्रभाकर सेल से भी पूछताछ की गई। आज भी हम उससे पूछताछ कर रहे हैं। दो और गवाहों का भी आने वाले दिनों में परीक्षण होगा।

धोखाधड़ी के केस में किरण गोसावी को भेजा जेल

उधर, पुणे की एक कोर्ट ने फारसखाना पुलिस थाने में दर्ज धोखाधड़ी के एक मामले में किरण गोसावी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। गोसावी मुंबई के क्रूज ड्रग्स मामले में स्वतंत्र गवाह है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *